Saturday, 10 October 2020

पीठ पर रोशनी

मित्रों मेरा नवीन काव्य संकलन  "पीठ पर रोशनी" प्रकाशित होकर आ चुका है। मेरी बहुचर्चित किताब "जंगल में पागल हाथी और ढोल" के बाद मेरा यह दूसरा संकलन है। 

हिन्दी कविताओं में एक नई सोच, नई दृष्टि  एवं ईमानदारी से सत्य को सत्य एवं झूठ को झूठ कहने के लिए  मेरे इस संकलन की कविताएं आपको अवश्य पसन्द आएंगी। 

यह अमेज़न पर बिक्री के  लिए उपब्ध है । किताब के लिए नीचे दिये लिंक पर जाकर ऑर्डर  करें। 

किताब के लिए लिंक   


#peeth_par_roshani 

#New_Book , #Hindi_Poem #हिन्दी #कविता #नीरज #नीर #पीठ_पर _रोशनी 

5 comments:

आपकी टिप्पणी मेरे लिए बहुत मूल्यवान है. आपकी टिप्पणी के लिए आपका बहुत आभार.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...